जैसलमेर बॉर्डर पर जवानों के साथ दिवाली मना रहे पीएम मोदी, जानिए इस जगह का महत्व

0
2 views
जैसलमेर बॉर्डर पर जवानों के साथ दिवाली मना रहे पीएम मोदी, जानिए इस जगह का महत्व


नई दिल्ली:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) बॉर्डर पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मनाने के लिए राजस्थान के जैसलमेर बॉर्डर (Jaisalmer Border) में पहुंच चुके हैं. पीएम मोदी के साथ CSD बिपिन रावत, आर्मी चीफ एमएम नरवणे और BSF DG राकेश अस्थाना भी मौजूद हैं. पीएम मोदी 2014 से ही हर साल अपनी दिवाली जवानों के साथ मनाते हैं. जैसलमेर में भारत-पाकिस्तान की सीमा मिलती है. यहां बॉर्डर पर BSF की तैनाती है. 

यहीं पर सुप्रसिद्ध तनोट माता का मंदिर भी यहीं पर है. प्रधानमंत्री जैसलमेर के लोंगेवाला बॉर्डर पर बीएसएफ जवानों के साथ दीपावली मना रहे हैं. लोंगेवाला बीएसएफ की एक पोस्ट है. लोंगेवाला वही जगह है जहां 1971 में भारत पाकिस्तान के युद्ध हुआ था. इस युद्ध में भारत की सेना ने पाकिस्तानियों को करारी शिकस्त दी थी, जिसका जख्म आज भी पाकिस्तान को दर्द देता है.  

4 दिसंबर 1971 की ये जंग हुई थी, जिसमें हिंदुस्तान के 120 वीर जवानों ने 40-45 टैंकों के कब्जा करने आए 3000 पाकिस्‍तानी सैनिकों को सबक सिखाया था. पाकिस्तानियों की लोंगेवाला चौकी पर कब्जा करने की नापाक कोशिश में उसके 34 टैंक तबाह हो गए थे और 200 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे. लेकिन ये चौकी हिंदुस्तानी नौजवानों ने अपने हाथ से नहीं जाने दी. 
लेकिन ये चौकी अविजेय रही थी. 

पिछले साल 27 अक्टूबर 2019 को पीएम नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी में जवानों के साथ दीवाली मनाई थी. इससे पहले 2018 में पीएम मोदी ने उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सेना और ITBP के जवानों के बीच दीवाली मनाई थी. 

आज पीएम नरेंद्र मोदी सभी देशवासियों से अपील भी की है कि इस दीपावली पर भारत की रक्षा में लगे सभी सैनिकों के सम्मान में एक दिया अपने घर पर जलाना है. नरेंद्र मोदी ने कहा है कि सभी देशवासियों को एक दीया सीमा पर तैनात जवानों के नाम जलाएं. पीएम ने ट्वीट कर कहा, ‘इस दिवाली, आइए एक दीया सैल्यूट टू सोल्जर्स (सैनिकों को सलाम) के तौर पर भी जलाएं. सैनिकों के अद्भुत साहस को लेकर हमारे दिल में जो आभार है उसे शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है. हम सीमा पर तैनात जवानों के परिवारों के भी आभारी हैं.”

LIVE TV





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply