Nizamuddin में तबलीगी जमात की मरकज से coronavirus पर हड़कंप, जानिए पूरी खबर

0
34 views

दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी जमात के मरकत से कोरोना के 24 मरीज मिलने के बाद हड़कंप मच गया. 350 लोगों को राजधानी के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया.

nizamuddin,markaz,tablighi jamaat,nizamuddin dargah,masjid,nizamuddin tablighi jamaat,coronavirus india,delhi,covid 19,nizamuddin markaz,nizamuddin coronavirus,निजामुद्दीन,तबलीगी जमात,मरकज,दिल्ली,निजामुद्दीन दरगाह,कोरोना वायरस
Nizamuddin markaz

निजामुद्दीन मस्जिद वाले इलाके को सील कर दिया गया इनके संपर्क में आए 1600 लोगों की तलाश कर रही है स्वास्थ्य विभाग और विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम ने इलाके का दौरा किया है.

पुलिस ने महामारी एक्ट के तहत या मुकदमा दर्ज किया. निजामुद्दीन इलाके में जमात मुख्यालय में रुकी लोगों में एक कोरोनावायरस हालात बिगड़ गए चौथे स्कूल से झज्जर भेजा गया है लोकनायक अस्पताल में 153 लोगों को भर्ती कराया गया राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में लोगों को भर्ती कराया गया है.

वहीं उत्तरी रेलवे के आइसोलेशन केंद्र में भी 97 लोगों को रखा गया है. जानकारों की मानें तो भारत में तबलीगी जमात का केंद्र निजामुद्दीन मरकज है.

देश ही नहीं पूरी दुनिया से जमात निजामुद्दीन मरकज पहुंचती है. मरकज में तय किया जाता है कि देशी या विदेशी जमात को भारत के किस क्षेत्र में जाना है. दरअसल तबलीगी का मतलब अल्लाह की कही बातों का प्रचार करना होता है.

वही जमात का मतलब होता है एक खास धार्मिक समूह यानी धार्मिक लोगों की टोली जो इस्लाम के बारे में लोगों को जानकारी देने के लिए निकलते है. मरकज का मतलब होता है बैठक या फिर इनके मिलन का केंद्र.

हजरत मौलाना इलियास कांधलावी ने 1926 -1927 में सुन्नी मुसलमानों के संगठन तबलीगी जमात की स्थापना दिल्ली में निजामुद्दीन स्थित मस्जिद की थी.

यहीं जमात का मुख्यालय है इस्लाम की शिक्षा देने के लिए इलियास शुरुआत में हरियाणा के मेवात के मुस्लिम समुदाय के लोगों की पहली जमात दी गई थी.

Please follow and like us:

Leave a Reply